• कोलंबो टेस्ट : भारत को 5 विकटों की जरूरत और, श्रीलंका (134-5)

    कोलंबो। सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे निर्णायक टेस्ट मैच के पांचवें दिन मंगलवार को श्रीलंकाई टीम चौथी पारी में 386 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भोजनकाल तक 134 के कुल योग पर पांच विकेट गंवा चुकी है। दिन के पहले सत्र में दो विकेट हासिल करने वाली भारतीय टीम को अभी भी जीत के लिए पांच विकेटों की दरकार है।भोजनकाल तक कप्तान एंजेलो मैथ्यूज 56 रन बनाकर कुशल परेरा (नाबाद 12) के साथ टीके हुएं हैं। उमेश यादव ने कौशल सिल्वा (27) के रूप में भारत को दिन की पहली सफलता दिलाई।...

    कोलंबो। सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे निर्णायक टेस्ट मैच के पांचवें दिन मंगलवार को श्रीलंकाई टीम चौथी पारी में 386 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भोजनकाल तक 134 के कुल योग पर पांच विकेट गंवा चुकी है। दिन के पहले सत्र में दो विकेट हासिल करने वाली भारतीय टीम को अभी भी जीत के लिए पांच विकेटों की दरकार है।भोजनकाल तक कप्तान एंजेलो मैथ्यूज 56 रन बनाकर कुशल परेरा (नाबाद 12) के साथ टीके हुएं हैं। उमेश यादव ने कौशल सिल्वा (27) के रूप में भारत को दिन की पहली सफलता दिलाई।


    सिल्वा सोमवार को अपने स्कोर में केवल तीन रनों का इजाफा कर सके और चेतेश्वर पुजारा के हाथों लपके गए। सिल्वा ने मैथ्यूज के साथ चौथे विकेट के लिए 54 रनों की साझेदारी की। पहले सत्र में श्रीलंका को दूसरा झटका रविचंद्रन अश्विन ने दिया। अश्विन की गेंद पर लाहिरू थिरिमान्ने (12) का कैच लोकेश राहुल ने लिया। श्रीलंकाई टीम मैच के चौथे दिन अपनी दूसरी पारी में उपुल थरंगा, दिमुथ करुणारत्ने और दिनेश चांडिमल (18) के तीन अहम विकेट गंवा चुकी थी। थरंगा और करुणारत्ने तो खाता भी नहीं खोल सके। भारत ने पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 145) की नायाब शतकीय पारी के बल पर 312 रन बनाए, जिसके जवाब में श्रीलंका की पहली पारी 201 रनों पर ढेर हो गई। श्रीलंका की पारी ढहाने में इशांत शर्मा (54-5) का योगदान अहम रहा। इसके बाद भारतीय टीम ने रोहित शर्मा (50) और रविचंद्रन अश्विन (58) की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत अपनी दूसरी पारी में 274 रन बनाए और श्रीलंका के सामने जीत के लिए 386 रनों का लक्ष्य रखा। तीन मैचों की सीरीज में दोनों टीमें एक-एक मैच जीतकर अभी बराबरी पर हैं और यदि इस मैच का परिणाम आता है तो यह सीरीज के लिए निर्णायक होगा।

अपनी राय दें