ADVERTISEMENT
  • इम्तिहान के बिना ही नौकरियां बांटेगी उप्र सरकार!!!

    अखिलेश ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने छोटे पदों के लिए इंटरव्यू को खत्म करने की बात कही है, हम इम्तिहान के बिना ही युवाओं को नौकरी देंगे। इस मौके पर उन्होंने बसपा और भाजपा पर जमकर निशाना भी साधा। अखिलेश ने कहा कि उप्र को विकास के रास्ते पर समाजवादी पार्टी की सरकार लेकर आई है।...

    मऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री के 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से भाषण से प्रेरणा ले ली है, अब उप्र सरकार इम्तिहान के बिना ही नौकरियां बांटेगी।

    मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार नौकरियों के लिए परीक्षा प्रणाली को खत्म करेगी। यहां 26 परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास के लिए हुए कार्यक्रम में अखिलेश ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने छोटे पदों के लिए इंटरव्यू को खत्म करने की बात कही है, हम इम्तिहान के बिना ही युवाओं को नौकरी देंगे। इस मौके पर उन्होंने बसपा और भाजपा पर जमकर निशाना भी साधा। अखिलेश ने कहा कि उप्र को विकास के रास्ते पर समाजवादी पार्टी की सरकार लेकर आई है।

    उन्होंने आरोप लगाया कि पिछली (बसपा) सरकार ने जनता से झूठे वादे किए थे और बिजली सप्लाई की हालत सुधारने के लिए कुछ नहीं किया गया। मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर भी हमला बोला और कहा कि बीते लोकसभा चुनाव में भाजपा ने भी झूठे वादे किए थे।

    अखिलेश ने कहा कि सपा सरकार ने बलिया, गाजीपुर और आजमगढ़ का विकास किया, अब मऊ की बारी है। उन्होंने मऊ में बुनकर सेंटर बनाने का भी ऐलान किया।

    अखिलेश ने कहा कि मऊ में लोहिया आवास योजना और अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को मिलेगा। इस साल किसान वर्ष के तौर पर मनाया जा रहा है। कृषि क्षेत्र के लिए भी सपा सरकार योजनाएं लाएगी। मंडी की व्यवस्था को अच्छा बनाने का वादा भी उन्होंने किया।

    बसपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, "हमसे पहले की सरकार ने बिजली पर कोई काम नहीं किया, हमने आजादी के बाद सबसे ज्यादा बिजलीघर बनवाए हैं।"

    मुख्यमंत्री ने कहा, "हमें समाजवादियों के दिखाए रास्ते पर चलना है और सरकार के सामने बड़ी चुनौतियां हैं। सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को सुधारने के लिए कोशिश कर रही है।" उन्होंने कहा कि तमाम बीमारियों के इलाज के लिए उनकी ही सरकार ने व्यवस्था की। सूबे में कानून और व्यवस्था की खराब हालत पर सीएम ने चिंता भी जताई, लेकिन साथ ही कहा कि इसे बेहतर करने के लिए पुलिस को हाईटेक किया जा रहा है। महिलाओं को पेंशन देने समेत अन्य योजनाओं का भी उन्होंने अपने भाषण में जिक्र किया।

    मुख्यमंत्री ने ये दावा भी किया कि सरकार की ओर से शुरू समाजवादी पेंशन योजना से समाज के बड़े तबके को बहुत लाभ मिलेगा। इस मौके पर दो प्रतिमाओं का अनावरण किया और कुछ छात्राओं को साइकिल और मेधावी छात्रों को लैपटॉप भी बांटे।

    इस मौके पर सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव का दर्द फिर छलक आया। उन्होंने मुख्यमंत्री की तरफ इशारा किया और कहा, "चापलूसों को छोड़कर जनता की सुनिए, तो राह आसान होगी। मंत्रियों के कामकाज के तरीके से हम कमजोर हो रहे हैं"

    मुलायम ने भाजपा पर भी हमला बोला और कहा, "उत्तर प्रदेश में रेप के मामलों के आंकड़े बीजेपी शासित मध्य प्रदेश और राजस्थान से काफी कम हैं, लेकिन इन्हें बढ़ा-चढ़ाकर बताया जाता है।"

ADVERTISEMENT

अपनी राय दें