• फलक की हालत में मामूली सुधार

    अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती दो साल की बच्ची फलक की हालत में मामूली सुधार हुआ है। ...

    अगले 48 घंटे महत्वपूर्ण


    नई दिल्ली !   अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती दो साल की बच्ची फलक की हालत में मामूली सुधार हुआ है। चिकित्सकों ने शुक्रवार को कहा कि अगले 48 घंटे बच्ची के लिए महत्वपूर्ण हैं। एम्स के ट्रॉमा सेंटर में न्यूरोसर्जरी के सहायक प्रोफेसर दीपक अग्रवाल ने आईएएनएस से कहा, "फलक की हालत पहले से थोड़ी बेहतर है। सांस सम्बंधी समस्या नियंत्रण में होने के कारण हमने सुबह उसे वेंटीलेटर से हटा दिया। लेकिन उसके इलाज को आगे बढ़ाने के बारे में निर्णय लेने के लिए अगले 48 घंटे महत्वपूर्ण हैं।"बच्ची के स्वास्थ्य की निगरानी कर रही 10 चिकित्सकों की टीम ने कहा कि फेफड़े और रक्त में हुए संक्रमण में कमी आई है लेकिन मस्तिष्क में अभी तक संक्रमण है जो चिंता का विषय है।उन्होंने कहा, "हम उसके मस्तिष्क में संक्रमण के कम होने का इंतजार कर रहे हैं। उसके बाद फलक के मस्तिष्क का ऑपरेशन कर प्लास्टिक नली डालकर संक्रमित तरल पदार्थ बाहर निकाला जाएगा।"फलक को एम्स में 18 जनवरी को एक 15 वर्षीया किशोरी ने भर्ती किया था। किशोरी ने खुद को फलक की मां बताया था। बच्ची के चेहरे एवं शरीर पर मानव दांत के निशान थे और वह गम्भीर रूप से घायल थी।इस मामले का मुख्य अभियुक्त राज कुमार गुप्ता अभी तक फरार है। दिल्ली पुलिस इस सिलसिले में आठ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। वह इस मामले की जांच मानव व्यापार एवं देह व्यापार के कोण से कर रही है।

अपनी राय दें