विचार  > प्रकृति
मोदी ने जल दिवस के मौके पर लोगों से पानी बचाने की अपील की
मोदी ने जल दिवस के मौके पर लोगों से पानी बचाने की अपील की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को विश्व जल दिवस के मौके पर देशवासियों से पानी की एक-एक बूंद को बचाने की अपील की

देशबन्धु
2017-03-22 15:19:07
वायु प्रदूषण से खत्म होती जिंदगी
वायु प्रदूषण से खत्म होती जिंदगी

यह चिंतित करने वाला है कि वायु प्रदूषण की वजह से भारत में हर मिनट दो लोगों की मौत हो रही है। यह खुलासा दुनिया की जानी-मानी चिकित्सा पत्रिका लांसे...

देशबन्धु
2017-03-20 22:54:55
बनी रहे फुदकन गौरैया की
बनी रहे फुदकन गौरैया की

घर आंगन में फुदकने और चहकने वाली छोटी प्यारी से चिडिय़ा अब घर आंगन तो दूर बाग बगीचों में भी दिखाई नहीं पड़ रही है। इन चिडिय़ों को हम गौरैया के नाम ...

देशबन्धु
2017-03-20 22:45:53
कमल पवित्रता का प्रतीक
कमल पवित्रता का प्रतीक

कमल कीचड़ जैसी जगह में उगने वाला एक साधारण फूल नहीं है। इसे कई देशों और धर्मों में अति पवित्र माना गया है। देवताओं को भी यह प्यारा है।

देशबन्धु
2017-03-20 22:42:12
हिंद महासागर में एक महाद्वीप जलमग्न
हिंद महासागर में एक महाद्वीप जलमग्न

हाल के अनुसंधान व विश्लेषण से पता चला है कि हिंद महासागर में एक महाद्वीप जलमग्न हो गया था और आज यह हिंद महासागर की तलहटी में भारत और मैडागास्कर क...

देशबन्धु
2017-03-20 22:37:19
भारतीय ने खोजा खारे पानी को मीठा बनाने का फार्मूला
भारतीय ने खोजा खारे पानी को मीठा बनाने का फार्मूला

अमेरिका में भारतवंशी छात्र चैतन्य करमचेदू ने खारे पानी को पीने लायक बनाने का एक सस्ता और आसान तरीका खोज निकाला है ।

देशबन्धु
2017-03-20 22:32:27
 क्यों गायब हो रही नन्ही गौरैया  20 मार्च गौरैया संरक्षण दिवस पर विशेष
 क्यों गायब हो रही नन्ही गौरैया ( 20 मार्च: गौरैया संरक्षण दिवस पर विशेष )

विज्ञान और विकास के बढ़ते कदम ने हमारे सामने कई चुनौतियां भी खड़ी की हैं, जिससे निपटना हमारे लिए आसान नहीं है। विकास की महत्वाकांक्षी इच्छाओं ने ...

देशबन्धु
2017-03-19 19:13:26
अब एक पौधा दे सकता है 25  किलोग्राम टमाटर
अब एक पौधा दे सकता है 25 किलोग्राम टमाटर

जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभाव के मद्देनजर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) के वैज्ञानिक टमाटर की एक ऐसी किस्म विकसित करने का प्रयास कर रहे हैं

देशबन्धु
2017-03-18 13:57:19
बैतूल के जंगलों में यूरेनियम की खोज में जुटे वैज्ञानिक
बैतूल के जंगलों में यूरेनियम की खोज में जुटे वैज्ञानिक

मध्यप्रदेश के बैतूल के जंगलों में इन दिनों वैज्ञानिक दुनिया के दुर्लभ परमाणु खनिज यूरेनियम की तलाश में जुटे हुए हैं

देशबन्धु
2017-03-18 13:43:56
गंगा निर्मलीकरण की सुस्त पड़ती रफ्तार
गंगा निर्मलीकरण की सुस्त पड़ती रफ्तार

यह बिडंबना है कि एक ओर केंद्र सरकार गंगा की सफाई को लेकर फिक्रमंद है वहीं केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय ‘नमामि गंगे’ योज...

देशबन्धु
2017-03-06 22:37:34
खुद को गर्म रखता है यह फूल
खुद को गर्म रखता है यह फूल

ननकुलेसी कुल के इस पौधे का नाम है बटरकप और इसके फूल की विशेषता है कि यह अपने बीच वाले भाग को गर्म बनाए रखता है। बटरकप के फूल चमकदार पीले रंग के ह...

देशबन्धु
2017-03-06 22:31:19
दूसरों के घोंसलों में अंडे देने वाले पक्षी
दूसरों के घोंसलों में अंडे देने वाले पक्षी

कोयल न तो कभी अपना घोंसला बनाती है और न अपने बच्चे पालती है। जनवरी फरवरी से ले कर मई जून तक नर कोयल, बागों में पेड़ों पर बैठा कुहूकुहू करता गाता ...

देशबन्धु
2017-03-06 22:27:59
खतरनाक झीलें बना रहे हैं पिघलते हिमनद
खतरनाक झीलें बना रहे हैं पिघलते हिमनद

पृथ्वी के तकरीबन 1 लाख 98 ह$जार हिमनद यानी ग्लेशियर्स में से एक-चौथाई हिमालय में हैं। हिमालय दुनिया की दस सर्वोज्च पर्वत चोटियों के लिए मशहूर है...

देशबन्धु
2017-03-06 22:20:39
भूकंप से निपटने की चुनौती
भूकंप से निपटने की चुनौती

गत सोमवार की रात्रि में आया भूकंप भले ही त्रासदी का शबब न बना हो पर उसके झटके ने उत्तराखंड समेत संपूर्ण उत्तर भारत को हिलाकर रख दिया।

देशबन्धु
2017-02-13 22:26:54
प्रदूषण मुक्त सौर ऊर्जा चालित नौका का सफल प्रक्षेपण
प्रदूषण मुक्त सौर ऊर्जा चालित नौका का सफल प्रक्षेपण

20वींशताब्दी की शुरुआत के दौरान (1925 से 1930 के बीच) वाईकॉम को सत्याग्रह आयोजन स्थल के लिए जाना जाता था,

देशबन्धु
2017-02-13 22:23:53
पालतू जलीय पक्षी बत्तख
पालतू जलीय पक्षी बत्तख

डक यानि बत्तख का नाम आते ही हमें हमारे घर के आस-पास के तालाबों में विचरते हुए गोल-मटोल से धीरे-धीरे चलते हुए सफेद रंग के पक्षी याद आ जाते हैं।

देशबन्धु
2017-02-13 22:20:16
ग्लोबल वार्मिंगकब तक बचा पायेंगे खुद को
ग्लोबल वार्मिंगकब तक बचा पायेंगे खुद को

पर्यावरण के असंतुलित एवं प्रदूषित होने की स्थितियां इतनी भयावह एवं डरावनी है कि कोई भी कांप उठे। प्रतिवर्ष 1500 करोड़ पेड़ धरती से काट दिए जाते ह...

अन्य
2017-02-07 03:36:36
प्लास्टिक कूड़ा  अभिशाप नहीं वरदान भी
प्लास्टिक कूड़ा अभिशाप नहीं, वरदान भी

हमारे देश में एक तरफ प्लास्टिक का कूड़ा बहुत ज्यादा मात्रा में इकट्ठा है, वहीं देश में सडक़ निर्माण का कार्य भी अधूरा है। बहुत से ऐसे स्थान हैं, ज...

देशबन्धु
2017-02-07 03:31:27