समय रहते रोगों को पता लगा सकती है कृत्रिम बुद्धिमता प्रणाली

ब्रिटेन में शोधकर्ताओं ने नई कृत्रिम बुद्धिमता प्रणाली विकसित की है जो हृदयरोग और फेफड़ों के कैंसर का और सटीक ढंग से तथा जल्द पता लगाने में मददगार साबित हो सकती है...

देशबन्धु
समय रहते रोगों को पता लगा सकती है कृत्रिम बुद्धिमता प्रणाली
Artificial intelligence system
देशबन्धु

लंदन। ब्रिटेन में शोधकर्ताओं ने नई कृत्रिम बुद्धिमता प्रणाली विकसित की है जो हृदयरोग और फेफड़ों के कैंसर का और सटीक ढंग से तथा जल्द पता लगाने में मददगार साबित हो सकती है। फिलहाल हृदयरोग विशेषज्ञ दिल की धड़कन के समय की गणना के आधार पर बता सकते हैं कि कोई समस्या है या नहीं।

हालांकि ऐसे में पांच में से एक मामले में अच्छे से अच्छे चिकित्सक भी गलती कर सकते हैं। या तो मरीजों को घर भेज दिया जाता है और उन्हें दिल का दौरा पड़ जाता है या फिर उन्हें गैर जरूरी शल्यक्रिया से गुजरना पड़ता है। ब्रिटेन के जॉन रेडक्लिफ अस्पताल में तैयार नए एआई सिस्टम में दिल का स्कैन और सटीक होता है।


इसमें स्कैन के उन ब्यौरों को भी देखा जा सकता है जिन्हें चिकित्सक नहीं देख पाते। सिस्टम यदि 'पॉजिटिव' कहता है तो इसका मतलब है कि उसका मानना है कि मरीज को दिल का दौरा पड़ने का खतरा है।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार