भारतीय ने खोजा खारे पानी को मीठा बनाने का फार्मूला

अमेरिका में भारतवंशी छात्र चैतन्य करमचेदू ने खारे पानी को पीने लायक बनाने का एक सस्ता और आसान तरीका खोज निकाला है ।...

देशबन्धु
भारतीय ने खोजा खारे पानी को मीठा बनाने का फार्मूला
देशबन्धु

अमेरिका में भारतवंशी छात्र चैतन्य करमचेदू ने खारे पानी को पीने लायक बनाने का एक सस्ता और आसान तरीका खोज निकाला है । उसके इस शोध ने कई बड़ी तकनीकी कंपनियों और विश्वविद्यालयों का ध्यान अपनी ओर खिंचा है । चेतन्य ने अपने स्कूल की कक्षा में किए गए एक प्रयोग के चलते पूरी दुनिया का ध्यान आकर्षित किया है । वह ओरेगांव के पोर्टलैंड में रहता है और जेसुइट हाई स्कूल सीनियर का छात्र है । चेतन्य ने सोखने की उच्च् स्तरीय क्षमता वाले एक पॉलीमर के जरिए समुद्री पानी में घुले नमक को उससे अलग करने में सफलता पाई । नमक हटने के बाद बचा पानी लायक हो गया था । पॉलीमर में किसी सामान्य यौगिक की आपस में जुड़ी श्रृंखलाओं से निर्मित बड़े कण मौजूद होते हैं । चैतन्य बताते है कि यह पॉलीमार पानी के कणों से नहीं, बल्कि नमक के कणों के साथ जुड़ता है ।  पानी के अणुओं के साथ नमक के अणुओं के जुडऩे से खारा पानी बनता है । समस्या इनके जुड़ाव को खत्म करने की थी । चैतन्य ने इस पर गौर किया कि समुद्री पानी पूरी तरह नमक से संतृप्त् नहीं होता । अर्थात समुद्री पानी के 10 फीसदी अणु नमक के अणु के साथ जुड़े रहते हैं, जबकि 90 फीसदी अणु नमक के अणु से जुड़े नहीं होते। ज्यादातर शोधकर्ता पूरे समुद्री पानी को लेकर सोचते रहे हैं, लेकिन चैतन्य ने नया नजरिया  अपनाया । उसने नमक के अणुओं से जुड़े 10 फीसदी समुद्री पानी की बजाय उससे नहीं जुड़े 90 फीसदी समुद्री पानी को पेयजल में बदलने पर ध्यान केन्द्रित किया और सफल रहा ।  चैतन्य के अनुसार पानी के लिए समुद्र सबसे अच्छा स्त्रोत है । पृथ्वी के लगभग 70 फीसदी हिस्से में समुद्र है । ये और बात है कि समुद्री पानी बेहद खारा होता है और उसे किफायती तरीके से पेजयल में बदलने में तमाम वैज्ञानिक दशकों से लगे है । कई विज्ञानियों को सफलता भी मिली, लेकिन उनके तरीके महगे और अव्यावहारिक साबित हुए । ऐसे में चैतन्य ने अपने हाई स्कूल की प्रयोगशाला में खुद एक सफल प्रयोग किया । उनका यह प्रयोग इस समय पर दुनिया भर में चर्चा का विषय बना हुआ है ।


देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार