केंद्र की नीतियों के विरोध में मीरा के समर्थन में मतदान किया: ममता

 तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अाज कहा कि नोटबंदी और जीएएसटी अाधुनिक भारत का सबसे बड़ा घोटाला है...

एजेंसी
केंद्र की नीतियों के विरोध में मीरा के समर्थन में मतदान किया: ममता
Mamta Bannerjee

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अाज कहा कि नोटबंदी और जीएएसटी अाधुनिक भारत का सबसे बड़ा घोटाला है और उनकी पार्टी ने केन्द्र की इन नीतियों के विरोध स्वरूप ही राष्ट्रपति पद के लिए  मीरा कुमार के समर्थन में मतदान किया है।

तृणमूल कांग्रेस पहला एेसा विपक्षी दल है जिसने यह स्वीकार करने के बावजूद कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के सामने राष्ट्रपति पद के चुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार की हार तय है उनके समर्थन में मतदान किया है।

कोलकाता विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना वोट डालने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में बनर्जी ने कहा कि उन्हाेंने और उनकी पार्टी ने भाजपा शासन में हो रहे ‘अत्याचार’ के विरोध में  कुमार को वोट दिया है।


इस विरोध में सभी विपक्षी दलाें काे साथ आना चाहिए क्योंकिं यही उचित समय है जब सब मिलकर संसद में अपनी सशक्त भूमिका अदा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह किसी भी कीमत पर भाजपा की नीतियों या उसके चुने उम्मीदवार का समर्थन नहीं कर सकतीं। ऐसी खबर है कि बनर्जी ने अपने सभी सांसदों से कोलकाता मे मतदान करने को कहा था ताकि किसी तरह के क्रास वोटिंग की गुंजाइश नहीं रहे। इसके लिए उन्होंने अपने सभी 42 सांसदो को एसएमएस संदेश भेजा था।

पश्चिम बंगाल की 294 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा का प्रतिनिधित्व नहीं के बराबर है हालांकि फिर भी विधानसभा में श्री कोविंद के समर्थन में छह विधायकों का वोट लगभग तय माना जा रहा है। इन विधायकों में से तीन भाजपा के हैं जबकि बाकी तीन उसके सहयोगी दल गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के हैं।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार