कौन बचाएगा मानवाधिकार को
कौन बचाएगा मानवाधिकार को?

आज भी देश में बहुत सारे ऐसे जगह हैं जहां लोग खुलकर सांस भी नहीं ले पा रहे हैं

देशबन्धु
2017-12-10 01:14:07
 आम भारतीयों के अधिकार खतरे में
 आम भारतीयों के अधिकार खतरे में

हम 10 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस ऐसे समय पर मना रहे हैं जब तमाम अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं द्वारा भारत में मानव अधिकारों के सिकुड़ते दाय...

देशबन्धु
2017-12-10 01:10:05
प्रेम और भक्ति का सर्वोत्कृष्ट अंकन
प्रेम और भक्ति का सर्वोत्कृष्ट अंकन

पहाड़ी चित्रकला का विकास 17 वीं से 19 वी सदी के दौरान जम्मू से अल्मोड़ा और गढ़वाल एवं उप-हिमालयी भारत एवं हिमाचल प्रदेश में हुआ

देशबन्धु
2017-12-10 01:04:50
कलात्मक भव्यता के लिए प्रसिद्ध सूर्य मंदिर 
कलात्मक भव्यता के लिए प्रसिद्ध सूर्य मंदिर 

भारत में तीन सबसे प्राचीन सूर्य मंदिर हैं जिसमेंं पहला ओडिशा का कोणार्क मंदिर, दूसरा जम्मू में स्थित मार्तंड मंदिर और तीसरा गुजरात के मोढ़ेरा का स...

देशबन्धु
2017-12-10 01:00:44
रोमांटिक हीरो के रूप में पहचान बनाई शशिकपूर ने
रोमांटिक हीरो के रूप में पहचान बनाई शशिकपूर ने

बॉलीवुड में शशि कपूर का नाम एक ऐसे अभिनेता के तौर पर शुमार किया जायेगा जिन्होंने अपने रोमांटिक अभिनय के जरिये लगभग तीन दशक तक सिने प्रेमियों का भ...

देशबन्धु
2017-12-10 00:56:43
मैं खुद को बोल्ड नहीं ईमानदार मानती हूं  ऋचा चड्ढा 
मैं खुद को बोल्ड नहीं, ईमानदार मानती हूं : ऋचा चड्ढा 

गैंग ऑफ वासेपुर, मसान और फुकरे जैसी फिल्मों में अपने अभिनय से छाप छोड़ चुकीं ऋ चा चड्ढा मानती हैं कि देश में महिला सशक्तिकरण की बड़ी-बड़ी बातें हो र...

देशबन्धु
2017-12-10 00:52:43
 अभिनय आसान नहीं  सुधा मूर्ति
 अभिनय आसान नहीं : सुधा मूर्ति

इंफोसिस फाउंडेशन की अध्यक्ष और लेखिका सुधा मूर्ति ने कन्नड़ फिल्म में एक छोटा सा किरदार निभाने के बाद यह पाया है कि अभिनय आसान काम नहीं है

देशबन्धु
2017-12-10 00:49:11
कुंडली मिल गई
कुंडली मिल गई!

पिछले कुछ सालों से हमारे देश में विवाह हेतु कुंडली मिलाने का चलन कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है

देशबन्धु
2017-12-05 01:10:22
एक प्रश्न
एक प्रश्न

सुदीपा और उसके माता-पिता के लिए अपने भावी जमाता सात्विक, जिसके साथ वह अपनी पुत्री का एक सप्ताह बाद धूमधाम से विवाह करने की पूरी तैयारी कर चुके थे...

देशबन्धु
2017-12-05 01:06:45
उच्च शिक्षा में सुशासन की दरकार
उच्च शिक्षा में सुशासन की दरकार

यूजीसी द्वारा जारी विश्वविद्यालयों की सूची में 291 निजी विश्वविद्यालय पूरे देश में फिलहाल विद्यमान हैं जो आधारभूत संरचना के निर्माण में ही पूरी त...

देशबन्धु
2017-12-05 01:02:05
उच्च शिक्षा में  गुणवत्ता आवश्यक या रैंकिंग
उच्च शिक्षा में  गुणवत्ता आवश्यक या रैंकिंग?

शिक्षा-संस्थानों को रैंकिंग की आवश्यकता है या नहीं, यह एक अलग प्रश्न है

देशबन्धु
2017-12-05 00:58:08
ऐतिहासिक इमारतों का शहर पोरबंदर
ऐतिहासिक इमारतों का शहर पोरबंदर

पोरबन्दर गुजरात का एक शहर है। पोरबन्दर बहुत ही पुराना बंदरगाह हुआ करता था।  पोबन्दर मे गुजरात का सबसे अच्छा समुद्र किनारा है

देशबन्धु
2017-12-05 00:53:39
पौराणिक विषयों पर प्रस्तुत केरल के लोकनाट्य
पौराणिक विषयों पर प्रस्तुत केरल के लोकनाट्य

केरल में पुराने जमाने में कई प्रकार के लोकनाट्य प्रचलित थे। उनमें कई भूले-बिसरे केवल नाममात्र के रह गए हैं, कुछ तो अभी जीवित हैं

देशबन्धु
2017-12-05 00:48:23
राजनेता बनीं सौम्या टंडन
राजनेता बनीं सौम्या टंडन

 अभिनेत्री सौम्या टंडन टेलाीविजन धारावाहिक भाबीजी घर पर है के आगामी एपिसोड में राजनेता के रूप में दिखाई देंगी

देशबन्धु
2017-12-05 00:43:43
मुजफ्फरनगर  बर्निंग लव स्टोरी न कथा न घटना न समस्या
मुजफ्फरनगर : बर्निंग लव स्टोरी, न कथा, न घटना, न समस्या

2013 में घटित मुजफ्फरनगर की घटनाएं अभी इतनी पुरानी नहीं हुयी हैं कि पढ़ने लिखने वाले लोग उसकी सच्चाई भूल गये हों

देशबन्धु
2017-12-05 00:36:09
ब्लू व्हेल गेम  एक राष्ट्रीय समस्या
ब्लू व्हेल गेम : एक राष्ट्रीय समस्या

22 अक्तूबर 2017 की रात साढ़े तीन बजे एक उन्नीस वर्षीया युवती ने बाथरूम में जाकर ब्लू व्हेल गेम का टास्क पूरा करने के लिए अपने हाथ में धारदार हथिया...

देशबन्धु
2017-11-26 00:50:59
गजराज की भूमि सरगुजा 
गजराज की भूमि सरगुजा 

सरगुजा प्रकृति की अनुपम देन हैं। प्राकृतिक सौन्दर्यता के कारण यह ऋषि-मुनियों की तपोस्थली के रूप में विख्यात रहा हैं

देशबन्धु
2017-11-26 00:42:14
गोटीपुआ  ओड़िशा का एक नृत्यनाट्य
गोटीपुआ : ओड़िशा का एक नृत्यनाट्य

गोटीपुआ एक प्रकार का नृत्यनाट्य है जिसका उद्भव जगन्नाथ मंदिर में पंद्रहवीं शताब्दि में माना जाता है। इस लोकनाट्य पर जयदेव के गीतगोविंद का स्पष्ट ...

देशबन्धु
2017-11-26 00:39:16
आत्म सम्मान सफलता से अधिक महत्वपूर्ण  इशिता दत्ता
आत्म सम्मान, सफलता से अधिक महत्वपूर्ण  इशिता दत्ता

फिरंगी की अभिनेत्री इशिता दत्ता को अब तक बॉलीवुड में कास्टिंग काउच का सामना नहीं करना पड़ा है

देशबन्धु
2017-11-26 00:33:42
नये अंदाज में तुषार कपूर
नये अंदाज में तुषार कपूर

तुषार ने अपने करियर की शुरूआत वर्ष 2001 में प्रदर्शित फिल्म मुझे कुछ कहना है से की। इस फिल्म में तुषार ने लवर ब्वॉय की भूमिका निभायी

देशबन्धु
2017-11-26 00:30:17
मुक्तिबोध का अखबारी लेखन
मुक्तिबोध का अखबारी लेखन

गजानन माधव मुक्तिबोध का नाम लेते साथ अनायास ही चाँद का मुंह टेढ़ा है और अंधेरे में  जैसे उनकी कविताओं के शीर्षक आंखों के सामने आ जाते हैं

ललित सुरजन
2017-11-15 22:02:13