सोलह सिंगार
सोलह सिंगार

सावन के महिना ल ये सहराती महिला मन, बछर भर अगोरयं। रंग-रंग के पहिर ओढ़ के चटक मटक किंजरय। एक बछर ये सावन म ये महिला मन बर  नावा किसिम के प्रतियोग...

अन्य
2017-08-14 04:37:40
हाना कहां सिवरीनारायन अउ कहां दुल्हादेव
हाना कहां सिवरीनारायन, अउ कहां दुल्हादेव

जब कोनो मनखे ह साधारन काम के तुलना बड़े काम ले करथे तब येला बोले जाथे। सिवरीनारायन  बड़े तीरथ आय। ओखर तुलना दुल्हादेव ले नई करे जा सकय

अन्य
2017-08-14 04:32:51
रुपिया के मारा मार
रुपिया के मारा मार

जग में चहुं ओर हाहाकार दिखे। रुपिया के मारा-मार दिखे

देशबन्धु
2017-08-14 02:43:12
समय के चरखा चलत हे
समय के चरखा चलत हे

समय के चरखा चलत हे, जइसे बिहान ले संझा म ढलत हे, देख के लालिमा चिरई बसेरा म आवत हे, चींव चांव लइका तन मुस्कावत हे

अन्य
2017-08-14 02:40:45
कमरछठ के तिहार
कमरछठ के तिहार

कमरछठ ल महिला मन अपन लोग लइका के दीर्घायु, सुख सांति के खातिर मनाथे। भादो महिना के अंधियारी पाख के छठ के दिन कमरछठ मनाय जाथे

अन्य
2017-08-14 02:38:09
सबके पार लगइया  किसन कन्हैया
सबके पार लगइया : किसन कन्हैया

भादो महिना के अंधियारी पाख में अष्टमी के दिन आधा रात के भगवान सिरी कृष्ण ह देवकी के गरभ ले जनम लेइस

देशबन्धु
2017-08-14 02:35:00
आगे परब झंडा के
आगे परब झंडा के

आगे परब झंडा के, दिन अगस्त मास म

देशबन्धु
2017-08-14 02:31:38
भारत देश के आजाद मनखे
भारत देश के आजाद मनखे

हमर पहिचान, हमर गुमान राष्ट्रगान जन-गण-मन राष्ट्रगीत, वंदेमातरम्  हमर छाती के धड़कन आय

देशबन्धु
2017-08-14 02:27:51
नान्हे कहिनी  ममता के अंगना
नान्हे कहिनी : ममता के अंगना

जिनगी म ममता ले बढ़ के का हे? कुछु तो नइ राखे हे। चरदिनिया जिनगी म मइनखे ममता म जीथे अउ एकर बिना मर घलोक जाथे

देशबन्धु
2017-08-07 01:21:24
बंगाला के भाव बढ़गे
बंगाला के भाव बढ़गे

हाय हाय लाली बंगाला तोरो अब्बड़ भाव बढग़े, भाव सुनके ले ल नि भाय

देशबन्धु
2017-08-07 01:01:00
बम बम भोले
बम बम भोले

हर हर बम बम भोलेनाथ के जयकारा लगावत हे

देशबन्धु
2017-08-07 00:51:45
चउमास के दिन आगे
चउमास के दिन आगे

गरमी के दिन बीत गे भाई, चउमास के दिन आगे

देशबन्धु
2017-08-07 00:48:46
एक दिन सुरताबे जुड़़ छांव म
एक दिन सुरताबे जुड़़ छांव म

एक दिन सुरताबे जुड़ छांव म धीरज धर बाबू, तैं अपन हाथ-पांव म सोना ह आगी म तपके कुंदन बनथे रे

देशबन्धु
2017-08-07 00:39:33
नान्हे कहिनी
नान्हे कहिनी

एक झन गरीब ब्राह्मण रिहिस। ओ हा कांशी ले पढ़के आय रहिस। ओकर करा बहुत अकन पुस्तक के पोटली रहय

देशबन्धु
2017-08-07 00:26:38
धोखा खावत मनखे
धोखा खावत मनखे

आज हर मनखे ल देखबे त पइसा के मामला म बहुत धोखा खात हावयं। नवा-नवा कम्पनी खुलत जात हे

देशबन्धु
2017-08-07 00:16:27
हाना
हाना

दू मनखे या वस्तु के तुलना नई करे जा सकय तब कहे जाथे। विसेस मनखे के तुलना साधारण मनखे ले नई करे जा सकय

देशबन्धु
2017-08-07 00:12:27
पीएचडी सिक्छक बीएड पढ़ाए बर
पी.एच.डी. सिक्छक बी.एड पढ़ाए बर

सरकार अब सब बी.एड कॉलेज के जांच करही। सब जगह एम.एड या फेर पी.एच.डी. करे व्याख्याता होना चाही

देशबन्धु
2017-08-01 00:57:29
हाना
हाना

कहां जाबे भागे, करम जाही आगे

देशबन्धु
2017-08-01 00:52:44
चल ना रे कांवरिया
चल ना रे कांवरिया

चल ना रे कांवरिया, चल कांवर ल धर ले

देशबन्धु
2017-08-01 00:44:16
बम बम भोले
बम बम भोले

हर हर बम बम भोलेनाथ के जयकारा लगावत हे

देशबन्धु
2017-08-01 00:40:03
किसान
किसान

रदरद रदरद गिरगे पानी, चूहे परवा छानी, ठलहा काबर बइठे भइया, आगे खेती किसानी

देशबन्धु
2017-08-01 00:35:59