रायगढ़: राहत कार्यों में NDRF की 4 टीमें तैनात: राजनाथ

नयी दिल्ली। केन्द्र सरकार ने महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में सावित्री नदी पर बने पुल के बाढ़ में ढह जाने अौर इसमें कुछ यात्री वाहनों के बह जाने की घटना को देखते हुए वहां राहत और बचाव कार्याे के लिए राष्ट्रीय आपदा कार्रवाई बल (एनडीआरएफ) की चार टीमें तैनात की हैं जिनमें कई नौकाएं और गोताखोर शामिल हैं। ...

 

रायगढ़: राहत कार्यों में NDRF की 4 टीमें तैनात: राजनाथ

नयी दिल्ली। केन्द्र सरकार ने महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में सावित्री नदी पर बने पुल के बाढ़ में ढह जाने अौर इसमें कुछ यात्री वाहनों के बह जाने की घटना को देखते हुए वहां राहत और बचाव कार्याे के लिए राष्ट्रीय आपदा कार्रवाई बल (एनडीआरएफ) की चार टीमें तैनात की हैं जिनमें कई नौकाएं और गोताखोर शामिल हैं।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज लोकसभा में शून्यकाल के दौरान शिवसेना के विनायक राव द्वारा पुल ढह जाने का मामला उठाए जाने पर कहा कि यह एक बेहद दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। उन्होंने कहा कि कल रात साढ़े ग्यारह बजे हुए इस हादसे में राज्य परिवहन की दो यात्री बसें और चार निजी वाहन बह जाने की खबर है।


उन्हाेंने कहा कि इसकी गंभीरता को देखते हुए एनडीआरएफ की चार टीमें राहत बचाव कार्यो में लगाई गई है। सशस्त्र बलों के दो हेलीकाप्टर भी तैनात किए गए हैं। सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार विपदा की इस धड़ी में राज्य सरकार को हर संभव मदद मुहैया करा रही है। राज्य सरकार की ओर से अपने स्तर पर भी प्रभावी कदम उठाए गए हैं।

 राव ने इससे पहले पुल ढ़हने की घटना पर अफसोस जताने के साथ इसके लिए सरकार और प्रशासन की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि यह पुल ब्रिटिश राज के समय का था। पुल की हालत बहुत जर्जर हो चुकी थी। इसे यातायात के लिए बंद किए जाने का अनुरोध कई बार किया जा चुका था लेकिन इस पर सुनवाई नहीं हुई जिसका नतीजा भीषण हादसे के रूप में सामने आया है।  

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
Related Stories
author

author