Deshbandhu : चित्रकूट,उत्तर प्रदेश ,डीएनए टेस्ट से पितृत्व विवाद खत्म होता है,Chitrakoot, Uttar Pradesh, the controversy over DNA paternity test is, डीएनए टेस्ट से पितृत्व विवाद खत्म होता है,अपराध नहीं
 Last Updated: 04:39:21 PM 26, Jul, 2014, Saturday
साइन इन   संपर्क करें
खबरे लगातार 04:39:36 PM 26, Jul, 2014, Saturday समाचार सेवाएँ डेस्कटॉप पर मोबाइल पर घर पर आर एस एस फीड
होम आज का अंक पिछले अंक      ब्लॉग्स विडियोगैलरी
ताजा समाचार
    भारत में स्मार्टफोन लॉन्च करेगी फिनलैंड की कंपनी    कोलकाता मेट्रो में विस्फोट की धमकी    राष्ट्रमंडल खेल (निशानेबाजी) : 10 मीटर एअर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में पहुंचे प्रकाश    गोवा के 2 मंत्रियों को बर्खास्त करें : कांग्रेस    तमिलनाडु का हज कोटा बढ़े : जयललिता    उप्र : सहारनपुर में आगजनी, गोलीबारी के बाद कर्फ्यू    मोदी ने करगिल युद्ध के शहीदों को याद किया    राष्ट्रमंडल खेल ( भारोत्तोलन) : संतोषी मात्सा ने जीता कांस्य     कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले की रोजाना सुनवाई करने के लिए न्यायाधीश नियुक्त     भारत की नई सरकार ने नेपाल के साथ रिश्ते को उच्च प्राथमिकता में रखा    दो साल पहले सूर्य पर आई तबाही से बची पृथ्वी : नासा    पिछड़े राज्यों में बिहार का वित्तीय प्रबंधन सर्वोत्तम     नमाज के बाद प्रदर्शन, भड़की हिंसा     'सुब्रत राय के लिए तिहाड़ में जगह तलाशे दिल्ली सरकार'    कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष पद पाने के योग्य नहीं : एजी    सी-सैट को लेकर सड़क से संसद तक हंगामा      छुटभैया नेताओं के बड़बोल से परेशान सरकार    राष्ट्रमंडल खेल (बैडमिंटन) : भारत ने केन्या को 5-0 से रौंदा    पाकिस्तान ने फिर तोड़ा संघर्ष विराम  
 आपका देशबन्धु
अन्य
राशिफल
कार्टून
इंटरव्यू
ई-पेपर
सहयोगी संस्थाएं
अक्षर पर्व
हैलो सरकार
जनदर्शन
मायाराम सुरजन फ़ाउन्डेशन
देशबन्धु लाइब्रेरी
हाईवे चैनल
बाल स्वराज
सेवाएँ
Jobs
Shopping
Matrimony
Web Hosting
समाचार     प्रमुख समाचार
  प्रिंट संस्‍करण     ईमेल करें   प्रतिक्रियाएं पढ़े     सर्वाधिक पढ़ी     सर्वाधिक प्रतिक्रियाएं मिली
डीएनए टेस्ट से पितृत्व विवाद खत्म होता है,अपराध नहीं
(03:29:44 AM) 14, Jul, 2012, Saturday

सुर्ख़ियो में
उप्र : सहारनपुर में आगजनी, गोलीबारी के बाद कर्फ्यू
मोदी ने करगिल युद्ध के शहीदों को याद किया
भारत की नई सरकार ने नेपाल के साथ रिश्ते को उच्च प्राथमिकता में रखा
दो साल पहले सूर्य पर आई तबाही से बची पृथ्वी : नासा
नमाज के बाद प्रदर्शन, भड़की हिंसा
'सुब्रत राय के लिए तिहाड़ में जगह तलाशे दिल्ली सरकार'
कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष पद पाने के योग्य नहीं : एजी
सी-सैट को लेकर सड़क से संसद तक हंगामा
छुटभैया नेताओं के बड़बोल से परेशान सरकार

चित्रकूट !     उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती मायावती सरकार के कद्दावर मंत्री रहे दद्दू प्रसाद पर कथित तौर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली युवती के अधिवक्ता रूद्र प्रसाद मिश्र ने शुक्रवार को कहा कि 'डीएनए टेस्ट से पितृत्व विवाद खत्म होता है, अपराध नहीं। डीएनए टेस्ट कराने की हामी भरने से पूर्व मंत्री आरोप से मुक्त नहीं हो सकते हैं।'
उल्लेखनीय है कि चित्रकूट जनपद के बरगढ़ क्षेत्र के कोल माजरा गांव की एक युवती साल भर से मायावती सरकार में ग्राम्य विकास मंत्री रहे दद्दू प्रसाद और उनके निजी सचिव अंगद पर नौकरी दिलाने के बहाने बलात्कार करने का आरोप लगाती आई है, मगर पुलिस ने पीड़िता के एक पत्र (तहरीर नहीं) को आधार मान कर पहले ही पूर्व मंत्री को क्लीन चिट देते हुए अंगद को आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया था। अब जब पीड़िता ने सोमवार को इलाहाबाद की निजी अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया तो मामला फिर सुर्खियों में आ गया।
युवती ने पूर्व मंत्री और अपने बच्चे का डीएनए टेस्ट की मांग की तो पूर्व मंत्री ने अपना डीएनए टेस्ट कराने की हामी भरने में देर नहीं लगाई।
सड़क से अदालत की ड्योढ़ी तक युवती की पैरवी करने वाले अधिवक्ता और ह्यूमन राइट्स लॉ नेटवर्क के जिला संयोजक रुद्र प्रसाद मिश्र ने शुक्रवार को कहा, "डीएनए टेस्ट से पितृत्व विवाद खत्म होता है, अपराध नहीं। डीएनए टेस्ट की हामी भरने से पूर्व मंत्री की मुश्किलें कम नहीं होंगी और न ही वह बलात्कार के आरोप से मुक्त हो सकते हैं।"
अधिवक्ता मिश्र का कहना है, "युवती लगातार पूर्व मंत्री और उनके निजी सचिव रहे अंगद पर नौकरी दिलाने के बहाने दुराचार करने की शिकायत पुलिस व अदालत से करती आई है, मगर पुलिस बचाव की मुद्रा में रही।"
उन्होंने कहा कि "पीड़िता ने अदालत में सीआरपीसी की धारा-164 के तहत (कलम बंद) दिए बयान में दद्दू को आरोपी ठहराया था, लेकिन पुलिस ने इस बयान को भी कोई तवज्जो नहीं दिया और पीड़िता के बैग से बरामद एक पत्र को आधार मानकर सिर्फ अंगद के खिलाफ अभियोग दर्ज किया। जबकि तहरीर पर ही मुकदमा लिखे जाने का प्राविधान है।"
उधर, पूर्व मंत्री दद्दू प्रसाद ने एक बार फिर कहा, "युवती उनके राजनीतिक विरोधियों से मिल कर झूठे आरोप लगा रही है। युवती ने अब तक पुलिस या अदालत में खुद के गर्भवती होने का कहीं जिक्र नहीं किया था और न ही चिकित्सीय परीक्षण में उसके गर्भवती होने की पुष्टि हुई थी।"
उन्होंने कहा कि वह किसी भी जांच का सामना करने को तैयार हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
Home Online Hindi News About us latest news from chhattisgarh
Sitemap chhattisgarh news Contact
Privacy Policy Terms & Conditions Disclaimer
Online Hindi news | Latest news from Chhattisgarh | Chhattisgarh Newspaper | Newspaper in Hindi | Hindi News Blogs | Chhattisgarh hindi news | IPL Cricket News | Business News in Hindi | National News in Hindi | Sport News in Hindi | Hindi Entertainment News | Political News Headlines | Latest news from India
  Web Design By: Sai Webtel