फीका रहा पीएसपीबी का पुरस्कार वितरण समारोह

पेट्रोलियम स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (पीएसपीबी) ने राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं के लिए आज पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया लेकिन इस समारोह के आयोजन की टाइमिंग सही नहीं होने के कारण इस बडे समारोह का जश्न फीका पड गया। ...

नई दिल्ली। पेट्रोलियम स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (पीएसपीबी) ने राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं के लिए आज पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया लेकिन इस समारोह के आयोजन की टाइमिंग सही नहीं होने के कारण इस बडे समारोह का जश्न फीका पड गया।

पीएसपीबी ने पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवडा की मौजूदगी में राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं को कुल दस करोड 13 लाख 71 हजार रपए की पुरस्कार राशि वितरित की। स्वर्ण विजेता को दस लाख. रजत विजेता को साढे सात लाख और कांस्य पदक विजेता को पांच लाख रपए की पुरस्कार राशि प्रदान की गई। पीएसपीबी का यह पुरस्कार समारोह बडे स्तर पर आयोजित किया गया था लेकिन राष्ट्रमंडल खेलों के अधिकतर पदक विजेता खिलाडी 12 नवंबर से चीन के ग्वांगझू में होने वाले एशियाई खेलों के लिए अपनी तैयारियों में व्यस्त होने या फिर ग्वांगझू के लिए प्रस्थान करने के कारण इस समारोह में शामिल नहीं हो सके।

समारोह में खिलाडियों के नाम पुकारे जा रहे थे लेकिन अधिकतर खिलाडी मौजूद नहीं थे और उनकी जगह उनके पुरस्कार या तो कोच या फिर साथी खिलाडियों या रिश्तेदारों ने ग्रहण किए। समारोह में तालियां बजती रही लेकिन जिन खिलाडियों के तालियां बजनी चाहिए थी वे ही समारोह में मौजूद नहीं थे। इसके बावजूद राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली बैडमिंटन खिलाडी सायना नेहवाल. मुक्केबाज सुरंजय सिंह. तीरंदाज दीपिका कुमारी. जिमनास्ट आशीष कुमार और कई पहलवान आकर्षण का केन्द्र बने रहे। पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवडा और पेट्रोलियम राज्यमंत्री जितेन्द्र प्रसाद ने स्वर्ण पदक विजेता खिलाडियों को नकद पुरस्कारों से पुरस्कृत किया जबकि विश्वकप विजेता क्रिकेट कप्तान कपिलदेव ने रजत पदक जीतने वाले खिलाडियों को पुरस्कार राशि और स्मृति चिन्ह प्रदान किए।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.