नेपाल के अांतरिक मामलाें पर हम कोई टिप्पणी नहीं करते : रवीश

भारत ने नेपाल में मौजूदा सरकार के खिलाफ तीन कम्युनिस्ट पाटियों की एकता को पड़ोसी देश का आंतरिक मामला बताते हुए आज कहा कि भारत का हित नेपाल में शांति, स्थिरता एवं आर्थिक समृद्धि में है...

एजेंसी
नेपाल के अांतरिक मामलाें पर हम कोई टिप्पणी नहीं करते : रवीश
Ravish Kumar

नयी दिल्ली। भारत ने नेपाल में मौजूदा सरकार के खिलाफ तीन कम्युनिस्ट पाटियों की एकता को पड़ोसी देश का आंतरिक मामला बताते हुए आज कहा कि भारत का हित नेपाल में शांति, स्थिरता एवं आर्थिक समृद्धि में है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में नेपाल के घटनाक्रम से जुड़े एक सवाल पर कहा, “हम नेपाल के अांतरिक मामलाें पर कोई टिप्पणी नहीं करते हैं। भारत का हित नेपाल में उसके लोकतांत्रिक एवं समावेशी राजनीतिक प्रणाली के दायरे के अंदर शांति, स्थिरता एवं आर्थिक समृद्धि में निहित है। ”

प्रवक्ता ने कहा कि एक घनिष्ठ एवं पड़ाेसी मित्र होने के नाते भारत नेपाल को वहां की सरकार एवं जनता की प्राथमिकताओं के अनुसार शांति, स्थिरता एवं त्वरित आर्थिक विकास के लिये हरसंभव सहायता एवं समर्थन देगा।


प्रवक्ता से पूछा गया था कि नेपाल में एकीकृत मार्क्सवादी लेनिनवादी (यूएमएल), श्री पुष्पकमल दहल के नेतृत्व वाली माओवादी सेंटर पार्टी और श्री बाबूराम भट्टाराई की नया शक्ति के एक बैनर तेल अगले राष्ट्रीय एवं प्रांतीय असेंबली चुनाव लड़ने तथा बाद में एक पार्टी के गठन पर सहमति को भारत किस दृष्टि से देखता है।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार