जमाली कमाली का होगा विकास, उपराज्यपाल ने अवैध निर्माण पर दिखाई सख्ती

दिल्ली के उपराज्यपाल बैजल ने आज सुबह मेहरौली आर्कियोलॉजी पार्क का निरीक्षण किया एवं काम्पलेक्स स्थित प्राचीन स्मारकों जमाली कमाली मकबरा, कुली खान का मकबरा एव राजाओं की बाउली की स्थिति का जायजा लिया...

एजेंसी
जमाली कमाली का होगा विकास, उपराज्यपाल ने अवैध निर्माण पर दिखाई सख्ती
Anil Baijal

नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने आज सुबह मेहरौली आर्कियोलॉजी पार्क का निरीक्षण किया एवं काम्पलेक्स स्थित प्राचीन स्मारकों जमाली कमाली मकबरा, कुली खान का मकबरा एव राजाओं की बाउली की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने पार्क की सुसंगत विकास एवं उसके रखरखाव की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि डीडीए एक समन्वय तंत्र बनाए जिसमें सभी एजेंसियों व हितधारकों को शामिल किया गया। ऐसे तंत्र को विकसित करने के लिए उन्होंने अक्टूबर के अंत तक का समय दिया जिसमें पार्क के संरक्षण, पुनर्रक्षण एवं उसके रखरखाव सहित सभी कार्य समाहित किए जाएं।

उपराज्यपाल के साथ डीडीए के उपाध्यक्ष, हार्टिकल्चर के प्रधान सचिव, दक्षिण जोन के मुख्य अभियंता, दक्षिण दिल्ली के जिला अधिकारी एवं एएसआई एवं इन्टेक के सभी संबंधित अधिकारी भी उपस्थित थे।

उपराज्यपाल ने दिल्ली विकास प्राधिकरण को राहगीरों एवं आगंतुकों को जल्द से जल्द बुनियादी नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराने को कहा है। इसके अतिरिक्त उपराज्यपाल ने पार्क में घूमनेवालों से बातचीत भी की जिन्होंने पार्क के अंदर हो रहे अतिक्रमण के बारे में बताया। इस संबंध में उन्होंने उनके विरूद्ध कानून के अनुसार कार्यवाही करने को कहा है।


उल्लेखनीय है कि पूरे पार्क कॉम्प्लेक्स में अमूल्य ऐतिहासिक संपत्तियां हैं जो 15 वीं और 16 वीं शताब्दी से भी पुरानी हैं और कुतुब मीनार के निकट है। उपराज्यपाल ने जोर देकर कहा कि इस क्षेत्र को दिल्ली का एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होने की काफी संभावना है।

 

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार