दिल्ली : सुबह के वक्त होता है सबसे उच्च प्रदूषण स्तर

राष्ट्रीय राजधानी के पूर्वी दिल्ली स्थित आनंद विहार की सड़कों पर गुरुवार की सुबह सबसे प्रदूषित हवा पाई गई...

एजेंसी
दिल्ली : सुबह के वक्त होता है सबसे उच्च प्रदूषण स्तर
High Pollution

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी के पूर्वी दिल्ली स्थित आनंद विहार की सड़कों पर गुरुवार की सुबह सबसे प्रदूषित हवा पाई गई। यहां प्रदूषण का स्तर पीएम 2.5 के साथ 700 के स्तर को पार कर गया जो कई दूसरे स्थानों से 'गंभीर' और 'बहुत खराब' दर्ज किया गया है। पड़ोसी राज्य पंजाब और हरियाणा में फसलों के अवशेष जलाया जाना जारी है, इस बीच नासा के अग्नि मैपर उपग्रह द्वारा लिए गए चित्रों से पता चला है कि जो हवाएं उत्तर-पश्चिम के राज्यों से आ रही हैं वह दिल्ली की हवा की गुणवत्ता को प्रभावित कर रही हैं, जबकि हवा की गति अपेक्षाकृत धीमी है। 

निजी मौसम की जानकारी देने वाली एजेंसी स्काइमेट के निदेशक महेश पलावत ने आईएएनएस को बताया, "वर्तमान में पंजाब की दिशा से मध्यम गति की हवाएं दिल्ली आ रही हैं। हवा फिलहाल उच्च गति की नहीं है और लगभग 10 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही है। हालांकि, ये हवाएं 16 अक्टूबर तक कम से कम इसी तरह से जारी रहेंगी।" 

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) के आंकड़ों के मुताबिक, आनंद विहार क्षेत्र में सुबह 5 बजे के बाद पीएम 2.5 या 2.5 मिमी से कम व्यास के साथ हवा में कणों का स्तर 772 तक पहुंच गया था, जबकि अगले घंटे में यह 350 तक गिर गया, फिर भी अनुमत सीमा से परे था। अंतर्राष्ट्रीय स्वीकार्य सीमा पीएम 2.5 के लिए 25 घन मीटर प्रति क्यूबिक मीटर है जबकि भारत के लिए यह 60 है।


मध्य दिल्ली के मंदिर मार्ग पर सुबह के समय पीएम का स्तर 2.5 था जो 135 से 165 के बीच रहा था, पश्चिम दिल्ली के पंजाबी बाग में 131 से 205 और दक्षिण दिल्ली के आर के पुरम में 139 से 174 के बीच था। 

वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान (एसएएफएआर) प्रणाली द्वारा दर्ज आंकड़ों में दिल्ली में शाम 4.30 बजे तक औसत पीएम 2.5 स्तर 112 दिखाया गया है।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार