शराबबंदी से बढ़ा बिहार का मान-सम्मान : नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि शराबबंदी के बाद बिहार का मान-सम्मान देश-दुनिया में बढ़ा है...

एजेंसी
शराबबंदी से बढ़ा बिहार का मान-सम्मान : नीतीश
Nitish

कैमूर। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि शराबबंदी के बाद बिहार का मान-सम्मान देश-दुनिया में बढ़ा है। 

श्री कुमार ने ‘समीक्षा यात्रा’ के क्रम में यहां आयोजित एक कार्यक्रम में 228 करोड़ रुपये लागत वाली 63 योजनाओं का रिमोट के माध्यम से उद्घाटन एवं शिलान्यास किया। इस मौके पर आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं की मांग पर राज्य में शराबबंदी लागू की गयी है। उन्होंने कहा कि शराबबंदी के बाद बिहार का मान-सम्मान बढ़ा है। देश के अलग-अलग राज्यों एवं देश के बाहर से भी अध्ययन करने के लिए लोग यहां आ रहे हैं। शराबबंदी के निर्णय से बड़ा असर पड़ा है। आम जन के गाढ़ी कमाई का एक बड़ा हिस्सा बर्बाद होने से बच गया और उसका उपयोग बेहतर भरण-पोषण में हो रहा है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी के साथ ही बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ अभियान चलाया गया है। महात्मा गांधी के जन्मदिन 02 अक्टूबर से दहेज प्रथा एवं बाल विवाह के खिलाफ सशक्त अभियान की शुरूआत हुई है। बाल विवाह एवं दहेज प्रथा एक दूसरे से जुड़े है इसीलिए एक साथ अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। 


श्री कुमार ने कहा, “ पिछले साल 21 जनवरी को शराबबंदी एवं नशामुक्ति के खिलाफ मानव श्रृंखला बनी थी, आज से 09 दिन बाद 21 जनवरी यानी रविवार के दिन बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के खिलाफ मानव श्रृंखला बनेगी। आप सबसे निवेदन है कि उसमें शामिल होकर इन कुरीतियों के खिलाफ स्पष्ट संदेश दीजिए। आप सब जरूर मानव श्रृंखला में शामिल होकर अपना संकल्प व्यक्त कीजिएगा।” 

कार्यक्रम को राज्य के परिवहन मंत्री सह जिला प्रभारी संतोष कुमार निराला, पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ब्रज किशोर बिंद और मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने भी सभा को संबोधित किया।

देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार