रहम दिल इंसान थे किशोर कुमार

महान पार्श्व गायक किशोर कुमार इतने उदार एवं मानवीय थे कि उन्होंने विश्व विख्यात फ़िल्म निर्देशक सत्यजीत रे को पाथेर पांचाली के निर्माण के लिए पांच हज़ार रुपये की मदद भी की थी...

एजेंसी
रहम दिल इंसान थे किशोर कुमार
kishorekumar

नई दिल्ली। करोड़ो युवाओं के दिलों पर राज करने वाले महान पार्श्व गायक किशोर कुमार इतने उदार एवं मानवीय थे कि उन्होंने विश्व विख्यात फ़िल्म निर्देशक सत्यजीत रे को पाथेर पांचाली के निर्माण के लिए पांच हज़ार रुपये की मदद भी की थी।

यह कहना है किशोर कुमार के जीवनीकार कमल धीमान का जिन्होंने उन पर तीन किताबें लिखी है। धीमान इन दिनों किशोर कुमार पर चौथी पुस्तक भी लिख रहे है और 25 नवम्बर को उनकी याद में संगीतों का एक कार्यक्रम भी आयोजित कर रहे हैं। इस पुस्तक में वह किशोर कुमार के संगीतकार गीतकार व्यक्तिव को रेखांकित करेंगे।


धीमान ने यूनीवार्ता को बताया कि किशोर कुमार के बारे में यह प्रचारित है कि वे बड़े कंजूस थे जबकि सच यह है कि वो दरियादिल आदमी थे। जब उन्हें पता चला कि सत्यजीत रे को पाथेर पांचाली फिल्म बनाने में आर्थिक संकट से गुजरना पड़ रहा तो उन्होंने उन्हें उस जमाने में फौरन पांच हज़ार रुपये की मदद की थी।  धीमान ने बताया कि किशोर दा ने सत्यजीत रे के लिए तीन गाने बंगला में गाये थे लेकिन उसके लिए पैसे भी नही लिए थे ।


देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार