घरेलू विमान सेवा प्रदेश की जरुरत

छत्तीसगढ़ में एक बार फिर घरेलू विमान सेवा शुरू करने की कवायद तेज हुई है। राज्य में इकलौता हवाई अड्डा राजधानी में है...

घरेलू विमान सेवा प्रदेश की जरुरत
अन्य

छत्तीसगढ़ में एक बार फिर घरेलू विमान सेवा शुरू करने की कवायद तेज हुई है। राज्य में इकलौता हवाई अड्डा राजधानी में है और बाकी प्रमुख स्थलों के लिए हवाई पट्टियों को इस योग्य बनाने के लिए काम लम्बे समय से चल रहा है, जहां विमान उतर सकें। हवाई परिवहन सेवाओं की दृष्टि से महत्वपूर्ण रायगढ़ में हवाई अड्डे के निर्माण की भी योजना है, जिसके लिए भूखण्ड का चयन भी किया जा चुका है। रायपुर हवाई अड्डे से विभिन्न शहरों के लिए उड़ानें शुरू होने के बाद राज्य में विमान यात्राएं करने वालों की संख्या काफी बढ़ी है। राज्य की भौगोलिक स्थिति और परिवहन सेवाओं के विस्तार के लिए जरुरी है कि घरेलू विमान सेवा जल्द शुरू हो। इसकी औपचारिकताएं लगभग पूरी की जा चुकी हैं और कुछ निजी विमान कंपनियों ने सेवाएं शुरु करने में दिलचस्पी भी दिखाई है। सिविल एविएशन  के अधिकारी राज्य की हवाई पट्टियों में उपलब्ध सेवाओं की जानकारी भी ले चुके हैं। उड़ानों और यात्रियों की सुरक्षा की दृष्टि से कुछ सुझाव इन अधिकारियों ने दिए थे। स्थानीय स्तर पर प्रशासन ने इन सुझावों के अनुसार जरुरी सुविधाएं बहाल कर दी हंै। कुछ अन्य सुविधाओं के बारे में कहा जा रहा है कि अगले कुछ दिनों में ही सब कुछ ठीक कर लिया जाएगा। घरेलू विमान सेवाओं का जो शेड्यूल प्रस्तावित है, उससे रायपुर से जगदलपुर, बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, जशपुर और अंबिकापुर को जोड़ा जाना है। अगर इन घरेलू विमान सेवाओं को देश में प्रचलित औसत विमान किराए पर शुरू किया जा सका तो उड़ानों के लिए यात्रियों की कोई कमी नहीं होगी। विशेषकर जगदलपुर और अंबिकापुर के लिए घरेलू विमान सेवा बेहद उपयोगी होगी, जहां के लिए अभी दु्रतगामी रेल सेवा भी उपलब्ध नहीं है। राजधानी से इन स्थलों की सडक़ मार्ग से यात्रा में आठ से दस घंटे लग जाते हैं। इन इलाकों में पर्यटन विकास की काफी संभावनाएं हैं। क्षेत्रीय विकास को गति देने के लिए छत्तीसगढ़ पर्यटन विभाग ने कई सुविधाएं उपलब्ध कराई है मगर पर्यटक इसलिए नहीं बढ़े क्योंकि परिवहन के अच्छे साधन नहीं है। घरेलू विमान सेवा शुरू होने के बाद पर्यटक विकास के भी नए द्वार खुलेंगे। एक बार फिर इसके प्रयास तेज हुए है और सरकार को इस बार हर हाल में इसे शुरू कराना चाहिए। घरेलू विमान सेवा ही नहीं बल्कि रायगढ़ में हवाई अड्डे के निर्माण की योजना को भी आगे बढ़ाना चाहिए। हवाई अड्डा प्राधिकरण इस योजना पर अपनी सहमति जता चुका है। केन्द्र सरकार के स्तर पर प्रयास हो तो इस हवाई अड्डे का निर्माण भी जल्द शुरू हो सकता है।


देशबंधु से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.

संबंधित समाचार