तीन साल की खट्टी-मीठी उपलब्धियाँ
तीन साल की खट्टी-मीठी उपलब्धियाँ

मोदी सरकार ने बीते 3 सालों में अभूतपूर्व साहस का परिचय दिया है। जीएसटी लागू करने का रास्ता बनाया है। रीयल एस्टेट में धांधली रोकने रेरा कानून लागू...

डॉ. भरत झुनझुनवाला
2017-08-24 00:50:19
आरामकुर्सी पर पसरा जलप्रपात
आरामकुर्सी पर पसरा जलप्रपात

धर्मशाला में विमान उतरा। जैसे ही बाहर निकले एक सुखद ताजगी ने छू लिया। हवा में एक खनक थी और थी हल्की सी शीतलता। शहरी जीवन में नित दिन धूल और धुएं ...

ललित सुरजन
2017-08-24 00:42:02
दांव पर रेल की सुरक्षा एवं संरक्षा
दांव पर रेल की सुरक्षा एवं संरक्षा

मुजफ्फरनगर में पुरी से हरिद्वार जा रही कलिंग उत्कल एक्सप्रेस के 13 बोगियों के पटरी से उतरने से भीषण हादसे में हुए नरसंहार से एक बार फिर भारतीय रे...

अन्य
2017-08-22 23:45:51
कितने असुरक्षित हैं मुसलमान
कितने असुरक्षित हैं मुसलमान?

एक विदाई संदेश में निर्वतमान राष्ट्रपति हमीद अंसारी ने कहा है कि मुसलमान देश में सुरक्षित नहीं महसूस कर रहे हैं। आत्ममंथन के बदले आरएसएस तथा भाजप...

कुलदीप नैय्यर
2017-08-22 23:21:40
सिर्फ आंकड़ों का जमा जोड़ नहीं है प्रबंधन
सिर्फ आंकड़ों का जमा जोड़ नहीं है प्रबंधन

बड़े संस्थानों से तालीम पाए लोगों के लिए भी यह खरा साबित हो सकता है। अभी भी जिन संस्थानों में ये प्रबंधन गुरु दूसरे तीसरे पायदान पर हैं

योगेश मिश्र
2017-08-22 00:07:05
शेल कम्पनियों के विरूद्ध सरकार का कड़ा रुख  
शेल कम्पनियों के विरूद्ध सरकार का कड़ा रुख  

वित्तमंत्री अरुण जेटली का दावा है कि नोटबंदी की वजह से चालू साल में आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या में 25 प्रतिशत की वृद्धि होने से उनकी कुल सं...

डॉ. हनुमंत यादव
2017-08-21 23:56:36
माणिक सरकार के संदेश से छेड़छाड़ के निहितार्थ
माणिक सरकार के संदेश से छेड़छाड़ के निहितार्थ

ये शब्द किसी भी तरह छेड़छाड़ का आधार नहीं हो सकते। आखिरकार, धर्मनिरपेक्षता का संविधान के मूल्य के रूप में उसकी प्रस्तावना तक में जिक्र है

देशबन्धु
2017-08-21 00:57:47
भारत दोऊ पाटन के बीच
भारत: दोऊ पाटन के बीच

सरकार की अपनी करनी-कथनी में बड़ा फर्क है- कहती है सबका विकास सबका साथ काम करती है कार्पोरेट के विकास का

प्रभाकर चौबे
2017-08-21 00:40:30
गोरखपुर की त्रासदी  राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति पर अमल की जरूरत
गोरखपुर की त्रासदी : राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति पर अमल की जरूरत

बड़ा सवाल यह है कि आखिरकार भारत में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार क्यों नहीं हो रहा है? यह सच है कि यह कोई आसान काम नहीं है

देशबन्धु
2017-08-19 00:55:10
न्यू इंडिया बनाम नया भारत
न्यू इंडिया बनाम नया भारत

यह न्यू इंडिया 'नया भारत’ के लिए नहीं है। यह ठीक वैसा ही है कि 'इंडिया’ और 'भारत’ के बीच की दूरी हमेशा बनी रही है और यह दूरी सायास न्यू इंडिया और...

चिन्मय मिश्र
2017-08-19 00:50:00
सावधान बदल गये हैं युद्ध के क्षेत्र
सावधान, बदल गये हैं युद्ध के क्षेत्र!

 सम्यक दृष्टि से विचार करना हो तो आज की दुनिया में कहीं भी किसी देश के लिए दूसरे पर कब्जा करके अपने साम्राज्य का विस्तार करना संभव नहीं हो पा रहा

शीतला सिंह
2017-08-18 01:05:58
चर्चिल की साज़िश - पार्टीशन1947
चर्चिल की साज़िश - पार्टीशन:1947

यह अजीब इत्तिफाक है कि भारत की आज़ादी की लड़ाई जब अपने उरूज़ पर थी तो अँग्रेज भारत की राजधानी के लिए नया शहर बनाने में लगे हुए थे

शेष नारायण सिंह
2017-08-18 01:00:38
ऊर्जा स्वतंत्रता का उपाय
ऊर्जा स्वतंत्रता का उपाय

वर्तमान में भागीरथी पर कोटेश्वर जैसी पम्प स्टोरेज योजना में नदी पर बांध बनाया जाता है

डॉ. भरत झुनझुनवाला
2017-08-17 02:02:30
हिमाचल प्रदेश-1
हिमाचल प्रदेश-1

नूरपुर का किला,मसरूर का मंदिर

ललित सुरजन
2017-08-17 01:58:58
सौ में सत्तर आदमी नाशाद हैं
सौ में सत्तर आदमी नाशाद हैं

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक जीडीपी का 5 फीसदी हिस्सा स्वास्थ्य पर खर्च करना चाहिए लेकिन हम 2025 तक 2.5 फीसदी हिस्सा खर्च करने का लक्ष्य तय क...

देशबन्धु
2017-08-15 00:05:07
भारतीय अर्थव्यवस्था की मध्यावधि समीक्षा
भारतीय अर्थव्यवस्था की मध्यावधि समीक्षा

मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से उद्योगपतियों एवं कारपोरेट व्यवसायियों को अपेक्षा थी कि रिजर्व बैंक अपने दृष्टिकोण में बदलाव कर विकासोन्मुखी न...

डॉ. हनुमंत यादव
2017-08-14 23:49:58
ऐसे बनायेंगे नया भारत
ऐसे बनायेंगे नया भारत?

एेतिहासिक 'भारत छोड़ो आन्दोलन की 75वीं वर्षगांठ पर लोकसभा में अपने विशेष सम्बोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत को समस्याओं से मुक्त करके पा...

अन्य
2017-08-14 06:51:56
अढ़ाई दिन इससे छोटा सत्र कैसा रहेगा
अढ़ाई दिन... इससे छोटा सत्र कैसा रहेगा

छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र अढ़ाई दिन में ही समाप्त कर दिया गया। अनिश्चितकाल के लिए सत्रावसान। अब शीतकालीन सत्र होगा- पता नहीं कितने दिन चले

प्रभाकर चौबे
2017-08-14 06:46:16
पहुंचना जीव का बिना आधार कार्ड के यमलोक
पहुंचना जीव का बिना आधार कार्ड के यमलोक

चित्रगुप्त ने यमदूत से कहा अरे, ये तुम किसे ले आए

प्रभाकर चौबे
2017-08-13 01:08:25
प्रायश्चित
प्रायश्चित

हिंदी के प्रसिद्ध साहित्यकार थे। इन्होंने नाटक, रेडियोनाटक, रिपोर्ताज, निबन्ध, संस्मरण, अनुवाद, बाल साहित्य आदि के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण योगद...

देशबन्धु
2017-08-13 00:57:27
बीता सप्ताह
बीता सप्ताह

सरकार ने जम्मू-कश्मीर, असम और मेघालय को छोड़कर एक अक्टूबर से पूरे देश में मृत्यु पंजीकरण के लिये आधार नम्बर को अनिवार्य कर दिया है

देशबन्धु
2017-08-12 01:31:20